बिहार चुनाव तय करेंगे देश की राजनीति की शक्ल

प्रसाद यादव अगर नीतीश कुमार के नेतृत्व में बिहार विधानसभा का चुनाव लड़ने के लिए तैयार हो गए हैं तो समझ लिया जाना चाहिए कि दांव पर किस-किस का भविष्य लगा है और परिणामों के बाद देश की राजनीति की शक्ल क्या बनाने वाली है। एक समझदार राजनीतिज्ञ हैं और उन्हें पता है कि ‘जनता […]

बुच साहब की अनुपस्थिति लंबे अरसे तक खलेगी

की राजधानी भोपाल के अरेरा कॉलोनी स्थित हरियाली से आच्छादित उस बंगले पर अब वैसी चहल-पहल नहीं रहने वाली है और न ही वैसी कोई कड़क आवाज़ ही गूंजने वाली है, जो महेश नीलकंठ बुच नाम की एक असाधारण शख्सियत की उपस्थिति में बनी रहती थी। आमतौर पर नौकरशाहों के शहर के तौर पर अपनी […]

अपनी शर्तों पर पत्रकारिता करते थे विनोद मेहता

मेहता का चले जाना इन मायनों में बड़ा नुकसान है कि अपनी शर्तों पर पत्रकारिता करने वाला उनके कद का संपादक-पत्रकार अब हमारे ‍बीच मौजूद नहीं रहेगा। देश में पत्रकारिता जिस तरह से पल-पल में करवटें बदल रही हैं, विनोद मेहता की कमी का सार्वजनिक रूप से स्मरण करना और उनके जैसा संपादक बनने का […]